Published On: Jun 20, 2019

दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) ने पान मंडी, सब्ज़ी मंडी आज़ादपुर, सदर बाज़ार और ग़ाज़ीपुर के दुकानदारों पर करीब 1 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। डीपीसीसी ने 28,500 किलो प्लास्टिक बैग जब्त किये हैं जो 50 माइक्रॉन से कम की मोटाई के हैं। 31 मई, 1 जून और 19 जून को समिति ने औचक छापा मारकर किया था इन बैग्स को जब्त और पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने के आरोप में 99 लाख का ज़ुर्माना लगा दिया गया है। एनजीटी के एक आदेश के अनुसार 50 माइकॉन से कम की मोटाई के प्लास्टिक बैग को बेचना और उत्पादन करना गैरकानूनी है। एनजीटी ने ही 2017 में इस तरह के प्लास्टिक बैग्स को प्रतिबंधित किया था, क्योंकि इसे न सिर्फ मवेशी खाते हैं बल्कि शहर के ड्रेन्स जाम हो जाते हैं। उल्लंघन करने वाले पर पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने के लिये 5,000 रुपये का ज़ुर्माना तय किया गया था। इस छापे का मकसद नियमों को बेहतर तरीके से लागू किया जाना है ताकि भविष्य में इसका इस्तेमाल रोका जा सके।  

Related Videos

Entertainment Articles