Published On: Mar 25, 2019

चुनाव आयोग लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जोर-शोर से जुटा है। चुनावों का एक अहम हिस्सा होता है मतदान का निशान यानी नीली स्याही, जिसकी 26 लाख बोतलों का ऑर्डर आयोग ने दे दिया है। करीब 90 करोड़ लोगों पर इस्तेमाल की जाने वाली इस स्याही की कीमत करीब 33 करोड़ रुपये होगी। लोकसभा चुनाव के लिए मतदान 11 अप्रैल से शुरू होगा और सात चरणों से गुजरते हुए 19 मई को पूरा हो जाएगा। 23 मई को वोटों की गिनती होगी।  

Related Videos