Published On: Aug 19, 2019

योगी सरकार ने अयोध्या में राम लला, मुख्य पुजारी और आठ अन्य कर्मचारियों की सैलरी बढ़ा दी है। राम लला को उनके पहनावे, नहाने, प्रसाद, मंदिर में बिजली और पानी के खर्च के लिये सैलरी दी जाती है। 1992 में बाबरी मस्जिद गिराए जाने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने मंदिर का कार्यकारी पुजारी नियुक्त किया था और उसके बाद से ही वह राम लला की देख-भाल कर रहे हैं। पुजारी का कहना है कि मंदिर के रख-रखाव में खर्च रोज होता है ऐसे में थोड़ी सी भी बढ़ोतरी राहत देगी। हमने इसके लिये अनुरोध किया था और पांच दिन पहले ही हमें इसकी जानकारी दी गई। पुजारी ने कहा कि इस कदम को मामले की सुनवाई से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिये।  

Related Videos

Entertainment Articles