Published On: Nov 11, 2019

रामजन्मभूमि के कार्यवाहक प्रमुख पुजारी महंत सत्येन्द्र दास ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले से राम का दूसरा वनवास खत्म हो गया है। उन्होंने कहा कि वह चाहते हैं कि रामलला की मूर्ति नए मंदिर के बन जाने के बाद ही रखी जाए। 1992 में विवादित ढांचे को गिराए जाने के बाद उन्हें कार्यवाहक प्रमुख पुजारी के तौर पर नियुक्त किया गया था। उन्हें इलाहहाबाद हाई कोर्ट ने नियुक्त किया था।  

Related Videos

Entertainment Articles