Published On: Jun 05, 2019

Google ने आज का अपना डूडल एलेना कॉर्नारो को समर्पित किया है . एलेना की आज 373वीं जयंती है. एलेना इटालियन दार्शनिक और धर्मशास्त्री होने के साथ ही दुनियाभर में 32 साल की उम्र में डॉक्टरेट की उपाधी पाने वाली पहले महिला थीं. एलेना कॉर्नारो पिस्कोपिय उस समय में पीएच .डी . डिग्री प्राप्त कर ली जब महिलाएं कम पढ़ी लिखी हुआ करती थीं। एलेना कॉर्नारो पिस्कोपिया का जन्म इटली के वेनिस में 5 जून 1646 को हुआ था. एलेना के पिता का नाम जियानबेटिस्ता कॉर्नारो था। इनकी माता का नाम जानेटा बोनी था। इन्होंने अपने जीवन के अंतिम 7 साल शिक्षा और चैरिटी के नाम को समर्पित कर दिया। इनकी मृत्यु इटली के एक शहर पडुआ में 26 जुलाई 1648 में हुआ।कॉर्नारो ने कई भाषाओं, विषयों और कई संगीत वाद्ययंत्रों के उपयोग को सीखा था। जब ऐलेना सिर्फ सात साल की थी, तो उसके माता-पिता ने उसकी क्षमता को पहचान लिया। उसके माता-पिता को एक पारिवारिक मित्र ने यूनानी और लैटिन में उसे सबक देने के लिए प्रोत्साहित किया। इन भाषाओं के अलावा, एलेना कॉर्नारो पिस्कोपिया ने हिब्रू, स्पेनिश, फ्रेंच और अरबी भाषाएं भी सीखीं।  

Related Videos

Entertainment Articles